सपनों में सपना है | Romentic Hindi Poetry | Shekhar Sharma |

नमस्कार! मेरे प्रिय पाठको CREATE DAIRY में आपका बहुत-बहुत स्वागत है! मेरा नाम है शेखर शर्मा और मै आप सभी के लिए इस वेबसाइट पे लेख लिखता रहता हूँ. और मुझे आशा नही पूर्ण विस्वास है, की मेरे द्वारा लिखी गयी लेख को आप मजे के साथ पढ़ते होंगे. तो आइये बढ़ते है आज की इस लेख की ओर…

         सपनों में सपना है !

एक दिन मेरे सपनों में आओगी तुम, सपना है !
आकार मेरे बांहों में लिपट जाओगी तुम, सपना है !

मेरे कानो में कुछ गुनगुनाओगी तुम, सपना है !
गुनगुनाकर अपने आशिक बनाओगे तुम, सपना है !

गहरी नींद से जगाओगी तुम, सपना है !
जगा कर अपने मन की बात बताओगी तुम, सपना है !

मेरे सामने मुस्कुराओगी तुम, सपना है !
मुश्कुरा कर शरमाओगी तुम, सपना है !

धीरे से मुझे सताओगी तुम, सपना है !
सताकर अपनी चाहत बतोगी तुम, सपना है !

मेरे दिल की अरमान जगाओगी तुम, सपना है !
जगा कर अरमान मेरी हो जाओगी तुम, सपना है !

मेरे साथ इश्क लड़ाओगी तुम, सपना है !
लड़ाकर कंही दूर ले जाओगी तुम, सपना है !

कभी शाम ढले आओगी तुम, सपना है !
आकर नजरों से घुर जाओगी तुम, सपना है !

कभी जरूरत पड़े प्यार की एक बूंद की, सपना है !
बादल बनकर बरश जाओगी तुम, सपना है !

मेरे साथ नई राह बनाओगी तुम, सपना है !
उस राह पे हम अपना घर बनायेंगे, सपना है !

एक दिन अपना घर ले जाओगी तुम, सपना है !
लेजा कर मम्मी से बात कराओगी तुम, सपना है !

मै तुम्हारा हूँ पूरी दुनिया को बताओगी तुम, सपना है !
शेखर की शिवानी बन जाओगी तुम, सपना है !

ना जाने किस दिन ये सपना देखूंगा मै, सपना है !

–शेखर शर्मा

 

दोस्तों मै उमीद करता हूँ की आपको ये पोस्ट पढने में काफी मजा आया होगा और काफी कुछ सिखने को भी मिला होगा इसी तरह का मै पोस्ट लिखता रहता हूँ मुझे इस तरह का पोस्ट लिखने में काफी मजा आता है पोस्ट कैसी लगी निचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये …धन्यवाद

इसी तरह का जानकारी पढ़ने के लिए आप createdairy.com पे बने रहे अगर आपको हमारे पोस्ट की नोटिफेक्शन चाहिए तो निचे आपने ईमेल डाल के createdairy.com को फॉलो करे धन्यवाद !

Leave a Comment