Sad line On Love – Shekhar Sharma

एक बात पुछू क्यों चले जाते है लोग दिल तोड़ कर नहीं पता मै बताता हूँ मेरा भी दिल टुटा है यार मुझे भी हुई थी मोहब्त और जिससे हुई थी वो मेरी मोहब्त के काबिल ना थी तोड़ कर चली गयी यार उसे किया पता जब किसी का दिल टूटता है न तो कितना दर्द होता है सायद उसने खिलौना समझ ली थी मेरे दिल को खेलकर चली गयी

मुझमे ही कुछ कमी थी या वो ही बेवफा थी मै तरसता रहा उसके प्यार के लिए वो खफा थी

कुछ लोगों को लगता है न की हमसे ज्यादा केयर करने वाले उन्हें मिल गये और वो उसके लिए हमें छोड़ जाते है किये हुए वादे भूल जाते उसके लिए धडकता हुआ इस दिल को तोड़ जाते है पर उन्हें कैसे समझाए की वो प्यार नही उसकी गलतफमी है

हां मै भी मानता हूँ की कुछ दिल टूटने का कसूर किस्मत का भी होता है

सायद उसकी दिल भर जाती होगी इसलिए दिल तोड़ जाती है खुद को नया मोड़ दे जाती है

अगर प्यार करना है तो अपने घरवालों से करो दोस्तों से करो अपनी माँ से करो बाहर तो बस प्यार को बेचा जाता है खरीदा जाता है बदला जाता है तोडा जाता है छोड़ा भी जाता है

जिन्दगी का यही हक्कित है जिस से जितना प्यार करलो जितना हशा लो उतना ही लोग रुलाते है
जाने वाले चले जाते बस यादें छोड़ जाते है

Leave a Comment